Thursday, March 24, 2011

प्यार सच्चा है, आजमा के तो देखिये,
हम आपके हैं, पास आ के तो देखिये,
कह गए लोग, हम कर के दिखाएँगे,
आपके लिए तो जान भी लुटा जायेंगे,
तक़ल्लुफ़ छोडिये, जरा नज़रें तो मिलाइए,
अजी हाथ क्या चीज़ है, हमें जान से लगाइए,
हो गए दिन बहोत आपसे दूर रहते,
चाँद तारे भी थकते नहीं ताने कसते,


No comments:

Post a Comment